बुधवार, 15 जनवरी 2020

Motivational story for student in Hindi

Motivational story for student in Hindi 

एक लड़का था जो हर बार अपनी क्लास में top करता था, पहली कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक उसने हमेशा अपने क्लास में top किया, उसके family वालों को लगने लगा था कि यह लड़का हमारी जिंदगी बदल देगा और पूरा गांव भी उस लड़के को देखकर सोचता था कि यह लड़का एक दिन बहुत बड़ा आदमी बनेगा, 

वह लड़का पहली कक्षा से ही बाहर hostel में रहकर पढ़ता था, इसलिए अलग-अलग बच्चों से daily कुछ नया नया सीखता था और इसी वजह से वह हमेशा जिंदगी में बहुत कुछ सीख रहा था but एक वक्त आया जब उसका समय बदल गया और ऐसा इसलिए हुआ, जिसमें उसकी बिल्कुल गलती नहीं थी because वक्त के साथ-साथ लोगों के अंदर ऐसे बदलाव होते हैं जिसकी वजह से वह अपने आप को भूल जाते हैं और कुछ ऐसा कर बैठते हैं जिसकी वजह से उसकी जिंदगी बदल जाती है,  

ऐसा सब के साथ होता है I know... यह सब आपके साथ भी हुआ होगा और मेरे साथ भी हुआ था, उस लड़के का वक्त तब बदला जब उसने कॉलेज जाना शुरु किया अब यह बात मुझे भी पता है और आप सब को भी कि कॉलेज में 90% students पढ़ने के लिए नही आते  सिर्फ और सिर्फ enjoy के लिए आते हैं और इसमें उस बच्चों की भी ज्यादातर कोई गलती नहीं है हमारे कॉलेज ही इस तरह के है,  

सब लोग पढ़ाई से ज्यादा enjoyment को महत्व देने लग जाते हैं और इसी वजह से उस बच्चे का मन पढ़ाई से निकलकर enjoyment में लग गया, धीरे-धीरे उसकी सारी knowledge जाने लगी जो उसने पिछले 12 सालों में इकट्ठा की थी, वक्त के साथ-साथ वह अपना सारा ज्ञान भूलने लगा और अपने दोस्तों के साथ मजे करने लगा, 


Motivational story for student in Hindi 




Motivational story for student in Hindi


एक दिन यह सारी बात उसके parent's को पता चल गई उसके parent's ने उसको समझाने की कोशिश की but वह वक्त ऐसा था कि उस लड़के को सिर्फ अपनी बातें सच्ची लगने लगे थी because टीनएजर में अक्सर ऐसा ही होता है हमें अपने अलावा कोई सच्चा नहीं लगता इसलिए उसने अपने parent's की बात को अनदेखा किया और अपने मजे को यूं ही बरकरार रखा, 

आखिरकार एक ऐसा वक्त भी आया जब उसे पता चला कि उसकी जिंदगी गुजर चुकी है और वह भी बर्बाद हो गई है यह सोचकर वह depression में चला गया वह अपने आप को लोगों से दूर करने लगा वह किसी से भी बात नहीं करता था और एक कमरे में बंद कर कर अपने आपको हमेशा रखने लगा था, 


Motivational story for student in Hindi 


यही बात उसके एक friend को पता चली जो उसके साथ ही पढ़ता था but क्लास में हमेशा पीछे रहता था मतलब की एवरेज था but आज एक बहुत अच्छी पोस्ट पर काम कर रहा था, जब वह दोस्त उस लड़के को मिलने गया तो उसने देखा कि वह अपने आप से हार चुका है उसे लगने लगा है कि वह अपनी life में कुछ नहीं कर सकता, उस दोस्त ने उस लड़के को ऐसी बात कही जो आज मैंने सीखे है और अभी आप लोग भी सीखेगे,

उस दोस्त ने जलती हुई आग में से एक कोयला बाहर निकाल कर मिट्टी में फेंक दिया, यह देखकर उस लड़के ने पूछा कि तुमने जलते हुए कोयले को बाहर क्यों निकाला,  तब उस दोस्त ने मिट्टी में पड़े हुए कोयले को वापस उठाया और आग में डाल दिया और डालते हुए उस हताश और निराश लड़के से कहने लगा कि इसी कोयले की तरह तुम भी वापस जल सकते हो बस यही बताना चाहता था तुम्हे,


One important thing for students


बचपन से लेकर तरुण अवस्था तक एक विद्यार्थी को यही सिखाया जाता है कि अभी पढ़ लो इसके बाद जिंदगी आसान है जब बच्चा दसवीं में आता है तब उसे कहा जाता है कि दसवीं पास कर लो इसके बाद जिंदगी आसान है।

जब वह दसवीं पास कर के 11th 12th में आता है। तब उसे कहा जाता है कि 12वीं पास कर लो इसके बाद तुम कॉलेज में चले जाओगे और कॉलेज में जिंदगी आसान है और इसलिए एक बच्चा बारवी के बाद अपना पूरा समय एन्जॉयमेंट में गुजारता है जब बच्चा कॉलेज में जाता है तब उसे कहा जाता है कि 3 साल मेहनत कर लो इसके बाद जिंदगी आसान है।

जब बच्चा 3 साल मेहनत करके। एक जॉब की तलाश में निकलता है तब उसे बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है क्योंकि सच्चाई यह थी कि बारवी तक हर इंसान की जिंदगी आसान और गोल्डन होती है और असली महेनत तो हमे उसके बाद करनी पड़ती है,

करोड़ो में से हजारों लोग ऐसे होते है जो अपनी जिंदगी में कुछ कर पाते है और आपको जानकर हैरानी होगी कि वह लोग जो जिंदगी में कुछ बन जाते है वह तब सीखना सुरु करते है जब लाखो लोग एन्जॉय करना सुरु करते है, करोड़ों में से कुछ ऐसे लोग होते हैं जो तरुण अवस्था के बाद आसपास के डिस्ट्रेक्शन को इग्नोर करके तब तक मेहनत करते हैं जब तक उसे उसकी मंजिल नहीं मिलती।


इसलिए एक विद्यार्थी को इस बात को हमेशा याद रखना चाहिए कि तरुणावस्था तक जिंदगी आसान है, और उसके बाद महेनत करनी है और वो कंसिस्टेंसी के साथ, 

बस यही थी मेरी जिंदगी  में आज की सिख....

0 comments:

Share your experience with me