Search here

बुधवार, 4 सितंबर 2019

Best motivational and inspiring poem 【क्या सही हु मैं】



Best motivational and inspiring poem 

क्या सही हु मै

आज एक बहुत अच्छी poem लिखना चाहता हूं poem बेशक मैंने नहीं लिखी है लेकिन बहुत काम की poem है मेरे और आपके, आज मैं भी कुछ सीख लेता हूं इस poem से और हो सके तो आप भी बहुत कुछ सीख लेना इस poem से, ज्यादा वक्त ना लेते हुए सबसे पहले कविता सुनते हैं और उसके बाद उस पर थोड़ी सी चर्चा करते हैं,

Motivational poem क्या सही हु मैं


Best motivational and inspiring poem
Best motivational and inspiring poem 

यू ढूंड खुद को खुद में क्या यही है तू, 
यू ढूंड खुद को खुद में क्या यही है तू, 
खुद को पूछ यह बात बार-बार 
क्या सही है तू ? 

क्या कमी है...
सब तो यही है...
फिर क्यों दुखी है तू, 
तुझे दुनिया से क्या..
तेरी दुनिया तो खुद ही है तू,

लड़ना भी है तो खुदसे लड़,
क्योंकि खुदको हराता और जीतता..
खुद ही है तू,
खुद को पूछ यह बात बार-बार 
क्या सही है तू ?

तुझे आंकना है खुद को, तुझे मापना है खुद को, 
तुझे आंकना है खुद को, तुझे मापना है खुद को,
फिर जीत कर दिखाना है तुझको और कहना है सबको की...
हा यही हु मैं, 
लेकिन फिर भी खुदको पूछता रहना है तुझको 


बस यह छोटी सी poem थी जो लिखी थी किसी ने अपने आप के लिए but मैंने इस poem को इस तरह से लिखा जैसे यह poem हमसे कुछ कह रही हो, मैं हर बात को इस तरह से लिखने की कोशिश करता हूं जैसे वह लिखावट हमसे बातें कर रही हो और तब जाकर उसके एक-एक शब्द हमारे दिल को छूते हैं,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me