Search here

गुरुवार, 8 अगस्त 2019

कैसे बने गुजराती इतने अमीर How did Gujarati become so rich


कैसे बने गुजराती इतने अमीर How did Gujarati become so rich


मेरा एक दोस्त मुझसे आकर आज कहने लगा कि मुझे यहां पर रहना ही नहीं है यहां पर कुछ करने जैसा नहीं इसलिए मैं dubai में जाकर कोई भी काम करूंगा क्योंकि dubai भारत से बहुत अच्छा है,

यह सुनकर मुझे ऐसा लगा कि बहुत सारे ऐसे लोग होंगे जिसे ऐसा लगता होगा कि हमारा भारत दूसरे देश के मुकाबले बहुत पीछे है but आज मैं आपको एक ऐसे state के बारे में बताऊंगा जिसके बारे में सुनकर आपको पता चलेगा कि हमारा भारत देश कितना आगे है  मैं Gujarat में रहता हूं इसलिए Gujarat की बात करूंगा,

मैंने आज यह टॉपिक इस लिए पसंद किया है because इसमें आपको बहुत कुछ सीखने मिलेगा, मैं आपको गुजरात के बारे में इसलिए नहीं बता रहा हूं कि मैं गुजरात में रहता हूं मैं इसलिए आपको बता रहा हूं because मुझे ऐसा लगता है कि मुझे और आपको भी एक गुजराती से बहुत कुछ सीखने की जरूरत है, हमारे देश के सभी state की अपनी अपनी विशेषताएं है but मैं गुजरात में रहता हूं इसलिए मुझे Gujarat की विशेषताओं के बारे में पता है,

गुजरात के बारेमें कुछ जानकारी



कैसे बने गुजराती इतने अमीर How did Gujarati become so rich
कैसे बने गुजराती इतने अमीर How did Gujarati become so rich

गुजराती लोगो को बचपन से धीरूभाई अंबानी का उदाहरण दिया जाता है घर हो स्कूल हो या कॉलेज हो हर जगह बस धीरूभाई अंबानी की बाते सुनाई देती है और उसके साथ साथ एक ही बात दिमाग में डाल दी जाती है कि कुछ बड़ा करना है,

गुजराती के दिमाग में एक ही बात चलती रहती है कि कुछ बड़ा कर लो जिंदगी में अगर नहीं कर पाए तो दूसरे कर जाएंगे और हमें वहां पर नौकरी करनी पड़ेगी,  हर गुजराती के पास सारे सवालों के जवाब होते हैं लेकिन सिर्फ एक condition है कि सवाल दूसरों के होने चाहिए,

भारत की 5% पॉपुलेशन वाला यह राज्य देश का 1/4 export Gujarat करता है देश का 1/4 cotton गुजरात प्रोड्यूस करता है देश का 1/4 milk प्रोड्यूस करता है दुनिया के 10 मैं से 8 हीरे Gujarat के सूरत में पोलिस होते है

Gujarat अगर एक independent देश होता तो चीन और साउथ कोरिया के बाद तीसरी सबसे fastest growing economy होता, इसका कारण है Gujarat का 1600km समुद्र किनारा, भारत के किसी भी state के पास इतना समुद्र किनारा नही है,  सदियों से गुजराती इसके जरिये business करते आ रहे है, शाहरुख खान की रहिज मूवी मैं एक डॉयलोग है कि गुजरात की हवा में व्यापार है.

कहते है कि कोई भी इंसान मारवाड़ी से सस्ता खरीद नही सकता और सिंधी को महंगा बेच नही सकता लेकिन… गुजराती वह है जो मारवाड़ी से सामान खरीदता है और सिंधी को बेचता है फिर भी पैसे कमा लेता है, मैं ये नहीं कह रहा हूं कि गुजराती लोग बहुत कंजूस होते हैं लेकिन डिस्काउंट उनके रग-रग में बसा होता है कितना भी अमीर गुजराती है वह डिस्काउंट के बिना सामान नहीं लेगा,

आप खुद ही सोचिए कि जिस राज्य का मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी हो वह राज्य आगे तो बढ़ेगा ही, भारत के 50% अरबपति Gujarat के है अम्बानी हो या अदानी हो गाँधीजी हो या मोदीजी हो, सब गुजराती है..

अंत में एक कमाल की बात बताता हूं नॉर्थ अमेरिका की अंदर एक गुजराती की ऐवरेज income अमेरिकन की ऐवरेज income से 3 गुना ज्यादा है, अक्सर लोग पैसा कमाने के बाद मजा करते हैं और गुजराती लोग जमा करते हैं और रही बात मजा करने की तो गुजराती लोग बिजनेस को ही मजा समझते हैं,



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me