Search here

सोमवार, 8 जुलाई 2019

motivational story in Hindi डर एक प्रेणादायक कहानी

motivational story in Hindi 

motivational story in Hindi डर
motivational story in Hindi डर

बहुत दिनों से मेरे पास Mobile नहीं था इसलिए एक भी story नहीं लिख पाया और ना ही अपनी बातें शेयर कर पाया लेकिन finally आज मैं एक motivational story को लेकर आपके साथ आया हु,

कहानी डर ई है उस डर की.. जो डर लोगों ने हमारे mind में डाल दिया है जिसको निकालना impossible तो नहीं लेकिन कुछ हद तक मुश्किल हो चुका है उसी डर को निकालने के लिए एक छोटी सी story आपके लिए लेकर आया हूं जिसे सुनने के बाद maybe आप कुछ हद तक अपने अंदर के डर को निकाल पाओगे, 

motivational story in Hindi डर एक प्रेणादायक कहानी


एक गांव था जिसमें एक गुफा(cave) थी, जब भी उस गांव का कोई इंसान उस गुफा में जाता था तो वह वापस लौटकर नहीं आता था, यह देख कर सारे गांव वालों ने उस गुफा की और जाना छोड़ दिया और कोई भी गांव वाला उस cave के आसपास भी नहीं जाता था but फिर भी कुछ ऐसे इंसान थे जो उस गुफा के पास जाते थे और वापस लौट कर नहीं आते थे,

इन्हें में से एक दिन एक लड़का जो नोजवान(youth) था जो इन सब बातों से अनजान था, बहुत सालों पहले वह शहर में study करने चला गया था but जब अपनी पढ़ाई को खत्म करके वह गांव में रहने के लिए आया तो उसे इन सब बातों का पता चला और उसने यह बात ठान लिया कि वह उस गुफा में जरूर जाएगा, 

जब वह यह बात सारे गांव वालों को बताने के लिए गया तो सब गांव वालों ने उसे कहा कि उस cave में मत जाना वहां पर बहुत खतरा है but फिर भी उसने लोगों की बात को अनदेखा करके उस गुफा में जाने का फैसला कर लिया, 


Motivational story in Hindi for youth 


एक दिन वह उस गुफा(cave) की और बढ़ा, जैसे ही गुफा उसके सामने आए तो उसे डर लगने लगा because वह भी इंसान था और बहुत ही छोटा था दूसरों के मुकाबले, फिर भी वह आगे बढ़ने लगा, जैसे ही वह गुफा के अंदर enter हुआ और कुछ फासला तय किया तो उसके चारों और अंधेरा छा गया और उसे कुछ भी दिखाई नहीं देने लगा but फिर भी वह आगे बढ़ा, 

बहुत आगे जाने के बाद किसी ने उसे पीछे से लकड़ी से वार किया जिसकी वजह से वह जमीन पर गिर गया और जब उसकी आंख खुली तो उसने देखा कि उनके चारों ओर पैसा ही पैसा है और जहां पर वो था वह एक बहुत ही अद्भुत नगरी थी, बचपन मे cartoon में जैसे दिखाते थे वैसी ही, 

उसके आसपास कुछ लोग थे जो वह लोग थे जो उस गांव से इस गुफा की ओर आए थे जब उस boy ने सब से पूछा कि यह सब क्या है तब सब लोगों ने कहा कि जब हम लोग इस गुफा में आए  तब हम लोगों ने यह सब देखा और हमने सोच लिया कि हम वापस कभी उस गांव में नहीं जाएंगे और ना ही वहां से आने वाले किसी भी इंसान को वापस वहा जाने देगे ताकि किसी को इस जगह का पता न चले, 

ऐसी बहुत सारी घटनाएं है जिनके पीछे डर होता है कोई भी लॉजिक नहीं होता buत जब हम उस लॉजिक को ढूंढने की कोशिश करते हैं तो हम चकित हो जाते हैं, बहुत सारे ऐसे डर है जो लोग हमारे mind में डाल देते हैं जो exull में आपका डर नहीं है लेकिन लोगों का डर है जो हमें आगे बढ़ने नहीं देना चाहता,

अगर आपको ऐसे डर को खोजना है तो आप उन लोगों के पास जा कर बैठिए, जो आपका बुरा चाहते हैं जो बाहर से आपको अपना दोस्त बनाते हैं और अंदर से चाहते हैं कि आप कुछ ना बन पाए, अगर आप उनकी बातों को गहराई से समझने की कोशिश करेगे तो आपको यह पता चलेगा कि आप किस डर के साथ जी रहे थे 

इस तरह से आपके दुश्मन भी आपको काम आ जायेंगे और आपको इस डर को अंदर से निकाल देना चाहिए इस डर की बहुत सारी कहानिया आपके साथ लाता रहुगा क्योंकि डर एक नहीं है डर अनगिनत है और उन अनगिनत डरो को कहानियों के साथ हम आगे भी समझते रहेंगे, जब तक सांसे है तब तक बाते भी है,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me