Search here

रविवार, 2 जून 2019

Rajiv dixit speech in Hindi इस इंसान को एक बार जरूर सुनना

Rajiv dixit speech in Hindi इस इंसान को एक बार जरूर सुनना

Rajiv dixit speech in Hindi
Rajiv dixit speech in Hindi

rajiv dixit को यहां पर कुछ लोग जानते होगे, कल रात को मैंने rajiv dixit के कुछ वीडियो देखे, वैसे मैं राजीव दीक्षित को बरसो से सुनता आ रहा हु because उनकी बातों में इतनी सच्चाई और देश के लिए प्रेम होता है जिसकी कल्पना हम नही कर सकते, आज मैं सिर्फ दो बाते उनकी करने के लिए आया हु, 

कुछ लोगो को शायद पता नही होगा कि rajiv dixit ने 2007 में कहा था कि हमारे देश में 1000, 500 और 100 कि नोट बंध कर देनी चाहिए, और finally मोदीजी ने कर दिखाया,

rajiv dixit की दो बातें जिसे सुनने के बाद history की कुछ घटनाएं जिसका कोई लॉजिक नहीं था उनमें से logic निकल कर आ जाता है, उन्होंने कहा था कि कभी भी अपने घर में aluminum का प्रेशर कुकर नहीं यूज करना चाहिए because उनसे कुछ वक्त बाद बहुत सारी बीमारियां होती है, 

इस बात को साबित करते हुए उन्होंने कहा था कि 200 साल पहले जब हमारी country में अंग्रेजों का राज था तब हमारे यहां 100% जनसंख्या में से सिर्फ 12% लोग बीमार थे और जब से अंग्रेज हमारी country को छोड़कर चले गए तब हमारे देश में सिर्फ 20% लोग स्वस्थ है बाकी के सब लोग अस्वस्थ है,

जो लोग अस्वस्थ हैं उनकी बीमारियों को % के साथ rajiv dixit ने मेंशन किया था but उन सब के बारे में, मैं बात नहीं करना चाहता हु मैं सिर्फ उन दो बातों की बात करना चाहता हूं जो मैंने अंडरलाइन की थी अपनी जिंदगी को जिंदगी के लिए, 

उसमें उन्होंने कहा था कि aluminum का आविष्कार अंग्रेजो ने हमारे देश में इसलिए किया था क्योंकि जो कैदी जेल में है उनको aluminum की प्लेट में खाना दिया जाए और धीरे-धीरे उसमें खाना खाने के बाद वह लोग अपने आप बीमार हो जाएंगे और किसी बीमारी का शिकार हो जायेगे,  

Rajiv dixit speech in Hindi इस इंसान को एक बार जरूर सुनना


ऐसा कुछ rajiv dixit ने कहा था और यही कारण था aluminum के प्रेशर कुकर के आविष्कार का, उन्होंने ये भी कहा था कि चरक ने अपनी चरक संहिता लिखते वक्त भी मेंशन किया था कि प्रेशर कुकर का इस्तेमाल मत करना क्योंकि उन्हें पता था कि इंसान सदियों बाद इस चीज का इस्तेमाल जरूर करेगा, सचमुच कमाल की बात है,

दूसरी बात उन्होंने ये कही थी कि किसी भी खाने के बनने के बाद उन्हें 46 मिनट से पहले खा लो, उसके बाद उस खाने को मत खाओ but मुझे इस बात से कोई मतलब नहीं है मुझे मतलब उस बात से है जब उन्होंने कहा कि वर्ष में 1 दिन ऐसा है जिस दिन आप बासी खाना खा सकते हैं और वहीं दिन है जिस दिन हम सब लोग चूला चलाते नहीं है और पूरे दिन बासी खाना खाते रहते हैं,

जन्माष्टमी के पहले जो दिन होता है उसमें हम सब लोग बाहर से मंगाए हुए मिठाइयां और घर में बनाई हुई  मिठाइयों को खाते हैं और उस दिन हम सब लोग चूला नही जलाते है, 

मैं यहां पर दो बातें बताने के लिए आया था पहली बात कि aluminum के बर्तन पर खाना खाना छोड़ दीजिए और दूसरी बात, कुछ वक्त निकालकर rajiv dixit को सुनिए, rajiv dixit तो अब इस दुनिया में नहीं रहे लेकिन उनके वीडियोस आज भी यूट्यूब पर available है कम से कम एक वीडियोस देखना आपके नॉलेज में 10 गुना बढ़ोतरी हो जाएगी,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me