Search here

शनिवार, 4 मई 2019

good atmosphere makes good people एक अच्छा माहौल ही अच्छे इंसान को बनाता है

good atmosphere makes good people एक अच्छा माहौल ही अच्छे इंसान को बनाता है

good atmosphere makes good people
good atmosphere makes good people

आज मैं अपनी sister के बेटे के साथ बातें कर रहा था वह तकरीबन 13 या 14 साल का है suddenly मैंने उससे पूछा कि तुम्हें आगे जाकर क्या बनना है उसने मुझसे कहा कि मुझे तो foreign में जाकर वहां पर कोई नौकरी करनी है, 

यह सुनकर कुछ देर मैं silenced रहा उसके बाद मैंने उससे पूछा “ऐसा क्यों" तब उसने मुझसे कहा कि मेरे village के बहुत सारे लोग वहां पर गए हैं और वह बहुत सारे पैसे कमाते है and साल में एक दो बार आते हैं तब बहुत सारी वहां की नई-नई चीजें लेकर आते हैं,

मैंने कहा “अच्छा और" तब उसने कहा कि वहां पर यहां से कहीं गुना ज्यादा पैसे मिलते हैं और यहां पर तो जॉब मिलना भी कितना कठिन है इस country में कुछ नहीं रखा है इसलिए मैं इस देश को छोड़कर foreign में जाना चाहता हूं,

मैंने उसकी बातों को ज्यादा दिल पर नहीं लिया because जब भी मैं अपने जीजाजी यानी कि उसके पिताजी से मिलता हूं तब उनके मुंह से भी मैं foreign की ही सारी बातें सुनता, वह भी मुझे बहुत बार force करते हैं कि तुम भी foreign में चले जाओ, यहां पर कुछ नहीं रखा, 

ऐसी Thought रखने वाले पिता का बेटा अगर इस तरह से बातें करता है तो कोई ताज्जुब की बात मेरे लिए तो नहीं थी, बस अफसोस इस बात का था कि मैं उसे अपने देश की Importent समझा नहीं सकता था because जो बातें मातापिता अपने दिमाग़ में डाल देते है उसे निकलना हर किसीके बस की बात नही है, 

बहुत सारे लोग जब मेरे पास दूसरों की complaint लेकर आते हैं तो मैं उन्हें एक ही उत्तर देता हु जब कोई इंसान तुम्हें बुरा लगे तब उस इंसान को बुरा कहने से पहले उनके आसपास के लोगों को जरूर देखना,

पिछले दिनों मेरे काका (uncle) जो शहर में Business करते हैं वह किसी शादी को attend करने के लिए यहां पर आए हुए थे, तब वह अपने childhood friends को कह रहे थे कि तुम्हारा कुछ नहीं हो सकता तुम्हारी जिंदगी झंड हो चुकी है पता नहीं किस असुभ मूहर्त में तुम्हारा जन्म हुआ था सब लोग अपनी अपनी life में आगे बढ़ रहे हैं और तुम अब भी कुछ नहीं कर पाए, 

तब मैंने अपने काका (uncle) से कहा कि अगर इनकी तरफ देखकर आपको गुस्सा आता है तो सबसे पहले आप हम सब की और देखें because इंसान 10 % खुद की वजह से अपनी जिंदगी को बिगड़ता है बाकी के 90% जिंदगी उनकी आसपास की बातें और हरकत उनकी जिंदगी को बनाती है, उसने मुझे सही ठहराते हुए कहा कि सच बात है,

मैं इस blog से बस इतना कहना चाहता था कि अपने बच्चे को ऐसी atmosphere दीजिए ताकि वह दूसरों की तारीफ करने से ज्यादा अपने country और समाज की तारीफ करें, वरना बादमे कोई उसे नही समझा पायेंगे, 

सच कहा था किसी ने कि अगर हमारे people हमारे पास आकर कहे की हमारा जो PM है वह बहुत अच्छा काम कर रहा है तब हम उस पर यकीन नहीं करेंगे but अगर किसी और country का PM आकर हमारे देश में भाषण दे जाए कि आप के PM ने बहुत अच्छा काम किया है तब हम उस पर यकीन करेंगे,

अगर कोई ऐसा है जिसे अपने country से प्यार नहीं है तो उसके दिल में मैं इस country को लेकर प्यार नहीं जगा सकता because मेरा वह काम नहीं है लेकिन suggestion दे सकता हूं कि अगर हमारा देश क्या है वह जानना है तो एक बार स्वर्गवासी राजीव दीक्षित जी को जरूर सुनना, 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me