रविवार, 14 अप्रैल 2019

कुछ भी हो जाए लेकिन हँसना कभी मत छोड़ना Never give up laughing

कुछ भी हो जाए लेकिन हँसना कभी मत छोड़ना Never give up laughing

Never give up laughing
Never give up laughing

बचपन में जब लोग हमें हंसता हुआ देखते थे तब बहुत खुश होते थे लेकिन आज सिर्फ दो ही इंसान है जो हमें हंसता हुआ देख कर खुश होते हैं और वह है हमारे parents हमारे teachers, बाकी सब लोग आपको हंसता हुआ देखेंगे तो सोचेंगे कि ऐसा क्या आपको मिल गया जिसकी वजह से आप हंस रहे हैं, 

मतलब कि किसी को भी हमारी हंसी से खुशी नहीं है but ताज्जुब की बात तो यह है कि हम भी उन्हीं दो लोगों के साथ झगड़ा करते हैं जिन्होंने पूरी जिंदगी  सिर्फ और सिर्फ हमारी हंसी के लिए कुर्बान करदी, 

मैंने अपने एक blog में लिखा था शायद की जो लोग हमारा बुरा चाहते हैं उन लोगों के लिए सबसे बड़ी सजा तो यह है कि हम हर वक्त हंसते हुए रहे और वे सोंचते रहे कि हमें ऐसा क्या मिल गया, 

एक commitment तो आज कर ही लेते है कि कुछ भी हो जाए जिंदगी में कितनी भी बड़ी problem क्यों ना हो हमें बस हँसते रहना है और कुछ नहीं करना, वैसे एक बात और clear करता हु की smile करनी है laughing नही, 

वैसे भी हंसने का कोई reason नहीं होता कुछ लोग कहेंगे कि अगर बिना बात के हंसते हुए चेहरे के साथ किसी के पास गए तो सामने वाला समझेगा कि हम लोग पागल हो गए हैं but ऐसा नहीं होता और सबसे खास बात औऱ मेरी जिंदगी को बहेतरीन बनाने में सहयोग देने वाले इस dialogue को भी हमेशा याद रखे कि  मुझे और आपको किसके बाप का कर्जा देना है

आज तक कि सारी बातों को छोड़कर आज इतना जरूर सीख लेना है कि अब से इस वक्त से हंसना नहीं छोड़ना है कुछ भी हो जाए, और यह भी एक सच्चाई है कि जो वक़्त बहुत बुरा होता है उस वक्त से अच्छा वक्त कोई नहीं होता, हमारी life का यह एक बहुत बड़ा fact है  जिसे आप आज पहचान लो या फिर तब पहचाना जब life आधी कट चुकी हो, मैंने तो बहुत पहले इस सच को जान लिया आज बात यहां पर इसलिए कह रहा हूं because इसका एहसास मुझे आज हुआ,

मैंने हंसने के बहुत सारे reasons पहले भी अपने कई blog में लिखे हैं, कुछ साल पहले मेरी ऐसी हालत कुछ इस तरह थी कि मैं पूरा दिन दुखी होने के coz अपने दिमाग में ढूंढता रहता था, सोचता था कि इस time में खुश होना मतलब की पाप है पता नहीं कहां से लेकिन दिमाग में यह बात कही से घुस चुकी थी कि कभी भी life में खुश नहीं होना चाहिए because खुश होने के बाद दुख आता है इसलिए अच्छा ये है कि बुरा वक्त अपने चेहरे पर लटका कर फिरते रहो,

वक्त के साथ कुछ ऐसे बीच जो मेरे दिमाग में बूढ़े हो चुके थे उसकी जड़ इतनी मजबूत हो चुकी थी जिसको महेनत से निकलना भी आसान नहीं था लेकिन धीरे-धीरे करके उन सब बातों को मैं अपने दिमाग से निकालने की कोशिश कर रहा हूं और कुछ ऐसे positive बीज है जिसको धीरे-धीरे अपनी life में कुछ experience के साथ डालने की कोशिश कर रहा हु, आप भी हो सके तो इन बातों को अपने दिमाग में बिठाने की कोशिश जरूर करना because मैं और आप एक है इस बात को भी आप कभी  इंकार नहीं कर सकते,

0 comments: