Search here

सोमवार, 18 फ़रवरी 2019

Another learning source to success एक और सीखने लायक सफलता का सूत्र

Another learning source to success एक और सीखने लायक सफलता का सूत्र

Another learning source to success
Another learning source to success

जब sonu nigam जो बहुत ही popular singer है वह अपनी singing के career को स्टार्ट करने के लिए delhi से अपने father के साथ mumbai आए थे तब उसके पापा ने उसे एक बात कही थी जो बात आज मुझे पता चली है और मुझे लगा कि वह बात मुझे अपने आप से और आप से भी शेयर करनी चाहिए ,

मेरे ज्यादातर example singing  से जुड़े हुए होते और वह इसलिए क्योंकि मुझे singer और song दोनों ही बहुत पसंद है लेकिन फिलहाल हम बात करेंगे की सोनू निगम के पापा ने उसे ऐसा क्या कहा था जिसे सुनने के बाद सोनू निगम आज सोनू निगम के नाम से जाने जाते हैं ,

एक वक्त था जब सोनू निगम जागरण और शादी में गाना गाने के लिए ₹100 लेते थे और आज का वक्त है जहां पर पता नही वह कितने लाख लेते होगे आज हम उस ₹100 से लेकर लाखो तक के मंजर को हासिल करने तक के उस सफर की बात करेंगे ,

जो लोग यहां पर गुजराती होगे वह लोग शायद फरीदा मीर को जानते होगे , मैं यहां पर फरीदा मीर की बात इसलिए कर रहा हूं क्योंकि सोनू निगम और उसकी कहानी एक जैसी है और शायद कहीं ना कहीं यह कहानी हर उस इंसान से जुड़ी हुई है जो आज success है लेकिन उसकी स्ट्रगल एक जैसी है ,

फरीदा मीर जो गुजरात की सबसे प्रख्यात सिंगर है वह एक वक्त पर प्रख्यात नहीं थी तब वह अपने आस-पास के गांव में जाकर सबसे विनती करती थी कि आप मुझे अपने घर के किसी कार्य में गाना गाने के लिए जरूर  बुलाना और आज का वक्त है जब लोग उसे बुलाने लगे तब उसके पास इतने सारे ऑर्डर थे जिसकी गिनती करना  मुश्किल तो नहीं लेकिन कहीं ना कहीं काबिले तारीफ है ,

अभी मैं बात करना चाहता हूं उस दो लाइन की जो दो लाइन सोनू निगम के पापा ने उसे तब कही थी जब वह दोनों मुंबई आए थे , तब उसके पापा ने उसे कहा था कि , 

One of the best success formula


struggle now and live a comfortable life later otherwise now enjoy with life and struggle later

मतलब कि या तो तुम अभी संघर्ष कर लो और बाद में आनंददायक जिंदगी बिताओ या फिर तुम अभी आनंद उठाओ और बाद में संघर्ष करते रहो यह फैसला तुम्हारे हाथ में है ,और उस वक्त सोनू निगम ने जो फैसला लिया था वह फैसला मुझे आप को और अपने आप को बताने की जरूरत नहीं है , 

यही बात उस हर इंसान पर अप्लाई होती है जो इंसान आज सक्सेस है और जो इंसान आज अनसक्सेसफुल है और जिस इंसान ने अपने पहले वक्त पर संघर्ष किया वह आज इंजॉय कर रहे हैं और अनसक्सेसफुल इंसान ने पहले वक्त इंजॉय किया और आज शायद वो संघर्ष कर रहे हैं बाकी का तो हर इंसान अपना अपना जानता है ,


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me