शनिवार, 2 फ़रवरी 2019

one of the best formulas for get success people's in Hindi


success formulas : this is the one of the best formulas for get success people's in Hindi  What is your own formula of success? formula for success in business

one of the best formulas for get success people's


जब रामसेतु का निर्माण हो रहा था , रामायण के वक्त की बात है कुछ लोग रामायण का नाम सुनते ही इस पेज को क्लोज़ करके यहां से चले जाएंगे लेकिन ऐसी गलती मत करना सच कह रहा हूं यह छोटी सी जानकारी आपको हिलाकर रख देगी ,

मैं बात कर रहा हूं उस वक्त की जब भगवान श्रीराम और उसकी वानरों की सेना मिलकर समुद्र में एक ऐसे रास्ते का निर्माण कर रही थी जिसके ऊपर चलकर वह लंका तक पहुंच पाए , मैं उसी राम सेतु से जुड़ी एक ऐसी बात एक ऐसी सीख आपके पास लेकर आया हूं जिसने मुझे हिला कर रख दिया था और शायद आप भी जरुर इंप्रेस होगे ,

उस बात को शेयर करने से पहले मैं एक ऐसे फार्मूले पर चर्चा आप के साथ करना चाहूंगा जिस फार्मूले पर चलकर हर आदमी सक्सेस बनता है मतलब कि सक्सेसफुल होने का एक ऐसा फार्मूला जिसकी वजह से हर कोई सक्सेस होता है और इसी फार्मूले का डायरेक्ट कनेक्शन मेरी आज के इस ब्लॉग से जुड़ा है ,

बेमतलब की बातें करके मैं आपका और मेरा वक्त बर्बाद करना नहीं चाहता इसलिए सबसे पहले मैं आपको वह फार्मूला और उस फॉर्मूले का मतलब बताता हूं ,

one of the best formulas for get success people's
one of the best formulas for get success people's


How much you did मतलब आपने कितना काम किया , How much you could do  आप कितना कर सकते थे and multiply by 100 , अब हम बात करते हैं कि इस फार्मूले का और सक्सेस का क्या ताल्लुक है और खास करके रामसेतु का इस फार्मूले से क्या ताल्लुक है ,

जब राम सेतु का निर्माण हो रहा था तब वहां पर खड़े सब वानर बड़े-बड़े पत्थर उठाकर समुद्र में फेंक रहे थे तभी अचानक किसी वानर ने देखा कि एक छोटी सी गिलहरी छोटे छोटे पत्थर को समुद्र में फेंक रही थी ,

उसको पत्थर फेंकते देखकर एक वानर ने उसको उठाकर कहा कि तुम्हारे इस छोटे-छोटे पत्थर कुछ नही होगा और उसे दूर फेंक दिया तभी वह गिलहरी जाकर राम भगवान की गोद में गिरी और राम भगवान ने उसके ऊपर हाथ फेरा जिस का निशान आज भी हम सब लोग देख रहे हैं ,

एक घटना थी अब इस घटना को हम उस फॉर्मूले में लगाकर देखते हैं कि हमें क्या सवाब मिलता है

वहां पर खड़े सब वानर जिस में इतनी ताकत थी कि वह 1000 किलोग्राम के पत्थर उठाकर फेंक सकते थे लेकिन फिर भी वह हंसी और उल्लास के साथ 500 किलोग्राम के पत्थर उठा उठा कर समुद्र में फेंक रहे थे और वह गिलहरी जो 50 ग्राम  कंकड़ उठा सकती थी उसके बजाय वह 100 ग्राम का कंकड़ उठा रही थी ,

अब हम मिले इन आंकड़ों को फार्मूले में लगाकर देखते हैं आप सब लोग अपने दिमाग को पूरी तरह से खोल कर मेरी छोटी सी बात को समझने की कोशिश करना ,

What is your own formula of success?


वानर ( monkey)


one of the best formulas for get success people's
one of the best formulas for get success people's


जिसका iq और maths अच्छा वह मेरी बात समझ गये होंगे और जो नही समझे वह आगे पढ़ते रहिए , जब हम मिले हुए आंकड़े को फॉर्मूला में डालते है तब वानर द्वारा सिर्फ 50% वर्क होता है क्यों कि वह 500kg काम कर रहे थे औऱ उनसे 1000kg काम हो सकता था ,

हमारे फॉर्मूले के मुताबिक किया हुआ काम ऊपर और जितना कर सकते थे वह निचे उसके बाद उसे 100 से multiply करने से वानर द्वारा किया हुआ काम हमें 50% मिलता है , लेकिन यही फॉर्मूला जब हम गिलहरी के आंकड़े पर लगाते है तब उनका किया हुआ काम हमें 200% मिलता है ,



गिलहरी (Squirrel)


one of the best formulas for get success people's
one of the best formulas for get success people's


वानर कद और ताक़त से बड़े लेकिन अपनी कैपिसिटी से 50% वर्क कर रहे है दूसरी और गिलहरी जो कद में और ताक़त में छोटी लेकिन अपनी कैपिसिटी से 200% वर्क कर रही है ,

अब यह छोटा सा फॉर्मूला हमे दो बात सिखाता है सबसे पहले की हर वह कामयाब इंसान जो अपनी फील्ड में कामयाब है उसके पीछे का राज यह है कि वह अपनी कैपिसिटी से दुगनी महेनत करते है और दूसरी और सबसे महत्वपूर्ण बात है ,

जब रामसेतु बन रहा था उस वक़्त उस सेतु के बीचमे जो जगह थी उस जगह को उस छोटी सी गिलहरियों और पक्षियों ने अपने छोटे छोटे पत्थर से भरा , अगर आप भी अपने नीचे काम करते लोगो को गिलहरी समझ रहे है तो ऐसी गलती मत करना दोस्त क्यों कि दीवाल सिर्फ एक ईंट से नही बनती ,

आशा करता हु की मेरा यह ब्लॉग पढ़कर आपका वक़्त ना बिगड़ा हो और आपको कुछ न कुछ तो जरूर सीखने मिला हो , इसी के साथ मिलूंगा एक नही सिख के साथ ,

0 comments: