मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019

One bad habit of all humans सभी मनुष्यों की एक बुरी आदत

One bad habit of all humans सभी मनुष्यों की एक बुरी आदत 

One bad habit of all humans सभी मनुष्यों की एक बुरी आदत
One bad habit of all humans सभी मनुष्यों की एक बुरी आदत 

आज मैं बड़ी फुर्सत में था इसलिए मैंने सोचा कि क्यों ना कहीं घूमने जाता हूं और बहुत सारे सवाल हमारे nuture से पूछता हूं और जो कुछ भी सीखने मिलता है उसे अपने साथ और आप सबके साथ share करता हु , 

Morning की कड़कती ठंडी मैं without Coat घर से बाहर निकला और जैसे ही मैं घर से थोड़ी दूर अपने पड़ोसी के घर पहुंचा तब वहां मैंने एक कोयल को गाते हुए सुना इसलिए मेरा मन हुआ कि क्यों ना  इस कोयल की थोड़ी सी तारीफ करू ,

मैंने कोयल से कहा कि कोयल तेरी आवाज कितनी Delicious है तेरी आवाज को सुनकर ऐसा लगता है कि पूरा दिन तुझे सुनता ही जाऊ , कोई भी बिना थके  तुझे सुनता ही जाएगा , तेरी आवाज में इतनी मधुरता है कि मुझे और कुछ सुनने की और ना ही देखने की लालसा है ,

लेकिन एक बात है जो मैं तुझे जरूर बताना चाहूंगा कि एक खूबी है जो मुझे खटकती रहती है और वह ये है कि तेरा colour काला है यह सुनकर कोयल ने भी मुझे एक answer दिया , जवाब सुनकर मैं वहां से आगे बढ़ा ,

कुछ और आगे बढ़ा तो मेरी मुलाकात एक समुंदर से हुई , समुंद्र को देखकर तो मुझे बहुत खुशी होती है और उनकी  गहराई के बारे में सोच कर तो मेरा brain चकराने लगता है but मैंने समुंदर से भी कहा कि तेरी तारीफ में मेरे पास शब्द नहीं है लेकिन एक बात जरुर कहना चाहूंगा कि अगर तेरे में इतनी लहेरे ना होती तो अच्छा होता , यह सुनकर समुद्र ने भी मुझे एक प्यारा सा answer दिया , 

उसके बाद में वहां से भी आगे बढ़ा और आगे बढ़ने के बाद मैंने एक गुलाब का पौधा देखा , गुलाब की praise में तो मैं क्या बोलूं जितना बोले उतना कम इसलिए उसकी praise में दो लफ्ज़ मैंने क्या सोचे उसे बताने से अच्छा कि मैं आपको वह बताऊ कि मैंने उसमें क्या खूबी निकाली मैंने rose से कहा कि अगर तुझमें कांटे ना होते तो और बढ़िया होता और गुलाब ने भी मुझे एक उत्तर दिया ,


Change this bad habit 


You know friends उन तीनों ने मुझसे क्या कहा , उसने कहा कि


तुम इंसानो की तारीफ़ भी कम नही है लेकिन काश तुम इंसानो में भी दूसरों की खूबी निकाल ने की आदत न होती तो और अच्छा होता , 

0 comments: