गुरुवार, 17 जनवरी 2019

जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us

What to do when people hurt us : what to do when someone hurts your feelings what to do when someone hurts you emotionally


जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us

जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us
जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us

दोस्तो अभी जो में कहने जा रहा हु उसे आप एक बार visualise करके देखे तभी मेरी बात आप तक ठीक तरह से पहोंचेगी ,दोस्तों में अपने हर ब्लॉग पर आपको visualise करने के लिए इसलिए कहता हूं क्यों कि visualise करके जो आप पढ़ते है सुनते है वही आपको लाइफटाइम याद रहता है , 

एक बार मेरा power of visualisation  ब्लॉग जरूर पढे ,

अब ज्यादा बात न करते हम अपने मैन टॉपिक पर बात करते है आज मेरा टॉपिक है लोग दिल दुखाए तब क्या करे , पिछली बार जो मैंने ब्लॉग लिखा था कि जब कोई बेइजती करे तब क्या करे वह सबने बहुत पसंद किया और आज आपको मेरी यह बात भी जरूर पसंद आएगी , चलिए सुरु करते है , 

what to do when someone hurts your feelings


दोस्तो सोचिए कि आपने ब्लैक कलर के जूते पहने है और कोई आपको आकर कहता है कि " ये क्या पहना है तुमने एक ब्लैक और दूसरा व्हाइट " जब आप अपने जूते की और देखेगे तब आपको पता चलेगा कि आपके दोनों जुते ब्लैक ही है और आप उस इंसान से कहोगें की " क्या यार ठीक ही तो है " 

सामने वाला इंसान आपको फिर कहेगा " क्या ठीक है नॉटंकी लग रहे हो " आप एक बार फिर अपने जूते देखेगे और वापस अपने जूते सही पायेंगे और उनसे कहेगे " क्या यार मजाक कर रहे हो सही तो है " वह इंसान एक बार फिर आपको कहेगा " जोकर लग रहे हो तुम "

जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us
What to do when people hurt us

जब लोग दिल दुखाए तब क्या करे || What to do when people hurt us
 What to do when people hurt us

अब आपको वह इंसान नसे में लगेगा आपको लगेगा कि उसने ड्रिंक की है इसलिए अब  आपको उनकी बात का बुरा नही लगेगा , आप उनकी आप से हैरान हो सकते है लेकिन गुस्सा नही क्यों कि आपको यह पता है कि आपके जुते सही है प्रॉब्लम उसके देखने मे या दिमाग मे है लेकिन 100% प्रॉब्लम आप तो नही है , 


what to do when someone hurts you emotionally


दोस्तों अब जो में लाइन बोलना चाहता हु उसे गौर से पढियेगा , इन सारी situation को देखकर आपको इतना पता चल गया होगा कि कोई आपके बारेमें ग़लत सोचता है ग़लत कमेट करता है उसका फ़र्क आपको तब तक नही पड़ता जब तक आप खुद को ग़लत नही समझते , 

दोस्तों लोगों में इतनी ताक़त नही की वह आपको गलत कह जाएं हम ग़लत तभी कहलाते है जब हम खुदको ग़लत समझते है जब हम खुद पर भरोसा नही करते कि आप सही है तब तक लोग आपके दिल को दुखाएगे ही , लोगो मे इतनी ताकत नही की वह आपको बुरा फील करवा सके , 

लोग बोलेंगे की आप काले है पतले है मोटे है लंबा है आवारा है चमचा है  लेकिन जैसे भी है आप खुद है इसलिए अपनी Image को अपनी नज़रो में सर्वोत्तम रखे तभी जाकर कोई आपके बारेमें कुछ बोलने की कोशिश करता भी है तभी भी आप उन्हें पागल या शराबी समझ कर इग्नोर करेंगे , 

दोस्तों लोगो का काम है कमियां निकाल ना और मेरी यह बात पर भी गौर फरमाइए की जो खुदकी लाइफ में खुश होना नही जानते वही आपको दुःख देना चाहते है इसलिए हम अपनी खुशियां उनके लिए नही गवाह सकते , 

दोस्तों एक बार शांत दिमाग़ के साथ अपने आपको पूरी तरह से एक्सेप्ट कीजिए सोचिए कि आप जो है वह है आपके जैसा कोई और नही और मेरी बात मानिए इस दुनियां में आपके जैसा सचमें कोई और नही है , 

यह बात मैंने कहा से सीखी है वह मुझे याद नही है वरना आपको जरूर उनका नाम सुगजेस्ट करता , आज के लिए बस यही छोटी सी सिख फिर मिलेंगे नई और सिख के साथ तब तक लिए गुड बाय , 


0 comments: