बुधवार, 2 जनवरी 2019

जब कोई हमारी बेइज्जती करें तब क्या करना चाहिए !


जब कोई हमारी बेइज्जती करें तब क्या करना चाहिए  

जब कोई हमारी बेइज्जती करें तब क्या करना चाहिए !
जब कोई हमारी बेइज्जती करें तब क्या करना चाहिए !

सबकी जिंदगी का यह  प्रॉब्लम होता है जब कोई हमारी बेइज्जती करता है तब कोई भी काम ठीक से नहीं होता और हमारे दिमाग में वह बेइज्जती बार बार घूमती रहती है उस वक्त क्या करना चाहिए ताकि हम अपने काम अच्छी तरह से कर पाए ,

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो बेज्जती को सहन करके कुछ देर खामोश रहने के बाद अपना काम शुरू कर देते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपनी बेज्जती को बहुत सालों तक याद आते हैं बार-बार उसके दिमाग में वही बेज्जती घूमते रहती है ,

लेकिन आज मैं आप लोगों से जो एक छोटी सी बात शेयर करने वाला हु उसे पढ़ने के बाद शायद आपको कभी बेज्जती का सामना करना पड़ेगा अगर कोई आपकी बेज्जती करता भी होगा तो भी आपको उनसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा , लेकिन इसके लिए आपको आने वाले चंद लाइनों को बिल्कुल कंसंट्रेशन होकर पढ़ना होगा , 

इसे पढ़ते वक्त कुछ चीजों का ध्यान दीजिए कि इस वक्त आप और मैं एक दूसरे के सामने होकर बातें कर रहे हैं आप अपने दिमाग में ऐसी सिचुएशन को विजुलाइज कीजिए तभी जाकर मेरी बात आप तक ठीक तरह से पहुंचेगी अगर आप एक बार पढ़ कर इसको नहीं समझ पाए तो इसे बार-बार पढ़िए 

जब भी कोई आदमी एक बार भगवत गीता पढ़ता है तब उसको उसमें से कुछ भी समझ में नहीं आता लेकिन फिर भी वह उसे दोबारा पढ़ता है और बार बार पढ़ने से उसे  थोड़ा-थोड़ा समझ मे आता है 

मैं जो कहना चाहता हूं अगर आप नहीं समझे तो उसकी बात हम लास्ट में करेंगे अभी हम बात करते हैं कि क्या करें जब कोई हमारी बेइज्जती करें , अब जो मैं कह रहा हूं वह कोई बकवास नहीं है उसे गौर से सुनना और समझना ,


जब कोई हमारी बेइज्जती करें तब क्या करे ? 


दोस्तों सोचिए कि मेरे पास कोई चीज है जो मैं आपको गिफ्ट कर रहा हूं अगर वह चीज जो मैं आपको गिफ्ट कर रहा हूं वह आप नहीं लेते हैं तब वह चीज़ किसकी होगी , सोचिए ........................................................ ! आपने जरूर कुछ सोचा होगा और आपका जवाब होगा कि वह चीज़ मेरी होगी , 

इसी तरह अगर कोई मेरी मजाक उड़ाता है कोई मेरी बेइज्जती करता है मैं उसे अपने ऊपर लेता ही नहीं हूं तो वह बेज्जती किसकी हुई , सोचिए ..................................................! इस बार फिर आप लोगों ने सोचा होगा और बहुत ही गहरे दिमाग के साथ सोचा होगा की वह बेज्जती उस इंसान की हुई जिसने मेरी बेज्जती की , 

बस दोस्तों यही एक छोटी सी बात थी जो मैं आप लोगों के साथ शेयर करना चाहता था यह बात मैंने आज ही एक बहुत अच्छे मोटिवेशनल यूटूबर वरुण ने सीखी है और जो में सीखता हु वही शेयर करने के लिए मैंने यह प्लेटफॉम्र बनाया है , 

आगे मैंने जो भागवत गीता पर संवाद किया वह इसलिए किया क्यों कि मेरे यहाँ पर बहुत सारे ऐसे दोस्त होंगे जिसे पढ़ा हुआ समझमे नही आता होगा और वह उस सब्जेक्ट को पढ़ना छोड़ देता होगा बस उसी दोस्त के लिए मैंने यह छोटी सी बात बीचमे छेड़ी , 


0 comments: