शनिवार, 10 नवंबर 2018

God's plan for us जो कुछ भी होता है अच्छे के लिए होता है

God plan : this blog for gods plan for us , Never be dissatisfied with God's plan in life , Some very good inspirational story on the theme of God's plan


God's plan for us


God's plan for us

हम सबको saccessfull इन्सान के छुपी हुई सक्सेस की कहानी जानने में बहुत अच्छा लगता है , हमें यह जानना बहुत अच्छा लगता है कि आखिर ऐसा क्या किया उसने कि आज वह वहां पर है और हम अभी भी यहां पर हैं , सफल इंसान की बहुत सारे सोच के बारे में मैंने आप सब से बात की है उन्हीं में से आज एक सोच जो आज मैं आपके पास लेकर आया हूं वह है कि भगवान जो कुछ भी करता है हमारे लिए वह सब कुछ अच्छा ही करता है , 

जैसे कि मैंने पहले भी बात करी है कि सब लोगों को सक्सेसफुल लोगों के पीछे छुपी हुई कहानियां सुनना बहुत अच्छा लगता है इसलिए मैं यहां पर दो कहानी सुनाऊगा , जिसमें एक किसी सक्सेसफुल इंसान के पीछे छुपी हुई कहानी होगी जो रिलेटेड होगी इस ब्लॉग से और दूसरी पुरातत्व काल के राजा महाराजाओं की जो भी रिलेटेड होगी इस ब्लॉग से ,  ज्यादा वक्त ना लेते हुए पहली कहानी शुरू करते हैं ,

1 ) story about shailesh sagpariya 


आप लोगों ने ऐसी कहानी तो बहुत बार सुनी होगी कि एक इंसान जो बार-बार निष्फल हो रहा है वह अचानक सक्सेसफुल हो गया लेकिन मैं जिसकी बात करने जा रहा हूं वह वह इंसान अपने स्कूल लाइफ अपने कॉलेज लाइफ के दरमियान हर एक फील्ड में सक्सेसफुल हो रहा था अगर आप उसके 10th के रिजल्ट देखो उसमें भी वह अव्वल आया था , अगर आप उसके ट्वेल्थ के रिजल्ट देखो उसमें भी अव्वल ,  उसके कॉलेज के एग्जाम में उसको गोल्ड मेडल मिला था , वह m.com मैं यूनिवर्सिटी रैंकर था ,


एक्स्ट्रा एक्टिविटीज में उसने भाग लेकर लगभग 350 certificate जीते थे , अब उसकी पढ़ाई खत्म हो चुकी थी और उसको एक जॉब की जरूरत थी उसे पता था कि उसे जॉब आसानी से मिल जाएगी , एक दिन अचानक एक कॉलेज में प्रोफेसर की 1 वैकेंसी आए और उसने सोच लिया कि वह यह जॉब कर लेगा क्योंकि उसका फेल हो जाना तो उसके नजरिया से नामुमकिन था , 

यही सोच कर वह इंटरव्यू में गया और उसने लगभग 22 मिनट तक इंटरव्यू दिया दूसरे लोगों से 3 गुना ज्यादा उसका इंटरव्यू  लिया गया , अब उसे लगने लगा था कि मेरा सिलेक्शन पक्का है मगर जब रिजल्ट आया तब वह इंसान पास हो गया था जिसके किसी को आशा भी नहीं थी , वह एकदम से निरास हो गया और डिप्रेशन में चला गया , बार-बार दिमाग में यही सवाल घूम रहा था कि आखिर में पास क्यों नहीं हुआ , 

Shailesh sagpariya
एक दिन उसे एक महात्मा मिले उसने यह सवाल किया कि बेटे तुम इतने मायूस क्यों हो तब उसने कहा कि मैंने इस तरह से सब कुछ किया था में हर बार अव्वल आता था फिर भी  मेरा सिलेक्शन नहीं हुआ , तब महात्मा ने उसे कहा कि भगवान जो कुछ भी करते हैं अच्छे के लिए करते हैं , वह सोचने लगा कि शायद मुझे सांत्वना देने के लिए महात्मा मुझे यह सब कुछ कह रहे हैं ,

आज वही इंसान एक बहुत बड़ा गुजराती मोटिवेशनल स्पीकर है और अपने हर एक से- सन में बहुत लोगों से अपनी यह कहानी कहता है और यह भी कहता है कि जो हो गया उसे भूलने से पहले उसमें से कुछ सीख लो उसके बाद उसे हमेशा के लिए भूल जावो ओर जो सीखा है उसे जिंदगी भर याद रखो ,


2) story about king 


एक राजा था जो 1 रात शिकार पर निकला , उसके साथ जो उसका वजीर था उसको एक बहुत ही अच्छी आदत थी और वह यह थी कि वह हमेशा यह बोलता रहता था कि " जो कुछ भी होता है अच्छे के लिए होता है " जब राजा और वह शिकार पर  निकले तब अचानक राजा की उंगली कट गई और यह देखकर वजीर केेे मुंह से निकल गया कि कोई बात नहीं महाराज जो होता है वह अच्छे के लिए ही होता है , 

महाराज उनकी यह बात से बहुत गुस्सा हो गए और महाराज ने सैनिकों को आदेश दिया कि इस इंसान को पूरी रात मारो और सुबह इस को फांसी दे देना , राजा की यह बात सुनकर वजीर को झटका नहीं लगा क्योंकि उसका तो यह मंत्र था कि जो कुछ भी होता है वो अच्छे के लिए होता है इसलिए उसे ठेस नहीं पहोंची , 

राजा वहां से अकेले ही शिकार पर निकल पड़े ,  कुछ आगे बढ़ने के बाद वहां बसे नक्सल लोगों ने उसे अगवा कर लिया और उसकी बलि चढ़ाने के लिए उसे उसकी सभा में ले गए , जब एक इंसान उसकी बलि चढ़ा रहा था तब उसने देखा कि  राजा की उंगली कटी हुई है , वह चिल्लाने लगा कि इसे छोड़ दो यह तो अछूत है इसकी बलि चढ़ाकर हमें कुछ नहीं मिलेगा , 

राजा वापस जब अपने महल पर जा रहा था तो उसकी आंखों में बहुत आंसू थे , वह सोच रहा था कि कैसे भी कर कर मुझे सुबह से पहले अपने महल पर पहुंचना है और अपने बजे की फांसी रुकवाने है जब वह अपने महल पर पहुंचा और उसने देखा कि वजीर को फांसी दी जा रही है तब उसने फिल्मी स्टाइल में कह दिया कि रुको यह फांसी नहीं हो सकती  और जाकर अपने बजे के गले लग गया और कहने लगा कि तुम जो कह रहे थे वह बिल्कुल सच था कि जो कुछ भी होता है वो अच्छे के लिए होता है , 

मैं बहुत शमा प्रार्थी हूं कि मेरी वजह से तुम्हें पूरी रात यह जुल्म सहना पड़ा यह सुनकर वजीर कहने लगा की कोई बात नहीं महाराज जो कुछ भी होता है अच्छे के लिए होता है तब महाराज ने उसे सवाल किया कि पूरी रात मेरे सिपाहियों ने तुम्हें पीटा इसमें सही क्या हुआ तब वजीर ने जवाब दिया कि ,

अगर आप मुझे यह सजा नहीं देते और अपने साथ शिकार पर ले जाते तब आपकी तो उंगली कटी हुई थी इसलिए आपको उस नक्सल लोगों ने छोड़ दिया लेकिन मुझे तो वह मार देते ना , 


भगवान जो कुछ भी करता है वह अच्छा के लिए करता है


इसीलिए कहता हूं मेरे सारे प्यारे दोस्तों की जो कुछ भी होता है अच्छे के लिए होता है कुछ लोगों को छोड़कर क्योंकि कुछ लोग ऐसे होते हैं जो जिंदगी भर मस्ती और उल्लास करते रहते हैं और सोचते रहते हैं कि जो कुछ भी हो रहा है अच्छे के लिए हो रहा है , इसीलिए मैं यहां पर साफ-साफ बताना चाहता हूं कि परिश्रम से किया हुआ कोई काम अगर आप उसमें सफल नहीं होते हैं तो उस वक्त आप अपने दिमाग से कह सकते हैं कि कोई बात नहीं जो कुछ भी हुआ अच्छा के लिए हुआ , 

परंतु आप इस लाइन का इस्तेमाल मस्ती और उल्लास करते हुए यूज करते हैं तो इसका कोई अर्थ नहीं है , आज के लिए बस इतना ही मैं आशा करता हूं कि आप को इन दो कहानी में से कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ तो सीखने मिला होगा और मेरा प्रयास बस इतना ही है कि आप कुछ ना कुछ सीखे , बहुत कुछ सीखे ऐसी मेरी कोई अभिलाषा नहीं है  बस आप कुछ तो जरूर सीखें , 



0 comments: