रविवार, 21 अक्तूबर 2018

small motivational story about parrot तोते के बारे में छोटी प्रेरक कहानी

Motivational story : this is small motivation story about parrot , this story give us lot of inspiring and encouraging thoughts for life , 

Small motivational story 


आज मैं आपके लिए एक छोटी सी motivational story लेकर आया हूं ,  कुछ दर्द ऐसे होते हैं जिसे हर कोई महसूस नहीं कर पाता , जैसे कि पिंजरे में कैद किए हुए हर पक्षी का दर्द हर कोई नहीं जान सकता , उन्हीं में से एक पंक्षी जिसका नाम है पोपट जिनकी समझदारी की कहानी लेकर आज मैं आपके पास आया हूं बस ट्विस्ट इतना है की इस कहानी को वही लोग समझ पाएगी जो इन्हें अच्छी तरह से पढ़ेगा और जिनका दिमाग वाकीई तेज होगा ,

Small motivational story


Smallest inspiring story


एक शेठ और शेठाणी थे जो हद से ज्यादा धार्मिक थे वह दिन का आधा वक़्त सिर्फ पूजा और मंदिर के साधु की संतवाणी सुनने में गुजारते थे उनके वहां एक पोपट था , जब शेठ मंदिर जाते थे तब पोपट उनसे कहता था कि "मालिका आज साधु से मेरा एक सवाल पूछना की मुझे आजादी कब मिलेगी " मगर शेठ उनकी बात कभी नही सुनता था ,

एक दिन शेठ ने सोचा कि क्यों ना आज साधु से पोपट का सवाल पूछ ही लू , जब शेठ मंदिर गया और जैसे ही शेठ ने साधु को सवाल किया कि हमारा पोपट कब आज़ाद होगा यह सुनते ही साधु बेहोश हो गया , जब शेठ घर आया और उन्होंने यह सारी बात पोपट को बताई ओर उसे बहुत डाटा ,

 समझदार को सिर्फ इसारा काफी है 


सुबह जब शेठ उठे तब उन्होंने देखा कि पोपट तो मर गया है और यह सोच कर उन्होंने पोपट के पिंजरे को जैसी हो खोला वह पोपट उड़ गया , जब शेठ साधु के पास गए तब साधु ने कहा कि क्या हुआ तुम्हारे पोपट का तब शेठ ने कहा कि गुरुजी वह पोपट तो बहुत बड़ा कलाकर निकला , जब हम सुबह उठे तब हमें लगा कि वह पोपट मर गया है और यह सोच कर हमने पिंजरा जैसे ही खोला वह उड़ गया , 

यह सुनकर साधु मुस्कुराया , यह देखकर शेठ ने पूछा कि आप इतने प्रशंन्न क्यों है तब साधु ने कहा कि समझदार को सिर्फ इसारा काफी है ,

अगर मेरे सारे दोस्त जो यह पढ़ रहे है और अगर वह समजदार है तब मुजे बताने की जरूरत नही है और जिसे समज में ना आया हो वह मुजे जरूर बताएं , ok friend bye and take care all 

0 comments: