सोमवार, 30 जुलाई 2018

Parents और son part 2 in hindi

Parents और son part 2 

Parents and son
Parents और son part 2 in hindi


            
बहुत सारे परिवार ऐसे होगे जिस ने एक बेटे को पाने के लिए न जाने कौन कौन से कार्य किए होगे कहां-कहां जाकर मन्नतें मांगी होगी कितनी मुश्किलों के बाद उसके घर पर एक बेटे का आगमन हुआ होगा , यह सिर्फ वह लोग जान सकते जिसने यह सब किया है ज्यादातर लोग ऐसे होते हैं जिसके घर पर बहुत सारी बेटियां होने के बाद एक बेटे का जन्म होता है और वही बेटा जब बड़ा होता है , 

और बड़े होते ही कहता है कि पापा आप नहीं समझेंगे , एक्चुली यहां पर गलती में उस बेटे कि नहीं कहूंगा यहां पर गलती उस पेरेंट्स की होगी क्योंकि एक बहुत ही अच्छा उदाहरण मेरे पास यहां पर है जो मैं आप सबके सामने पेश करूंगा जो मैंने देखा हुआ और मेरे सामने हुआ है और बात आज की ही है  तो lets start

            
मेरे घर के पास भी एक ऐसा घर है जहां पर ९ बेटी की जन्म होने के बाद एक बेटे का जन्म हुआ , उसमें से दो बेटी कुछ महीने के होने के बाद मर गए और अभी उस घर में 6 बेटियां हैं और एक बेटा है , आज की तारीख में वह बेटा अपने पेरेंट्स को इस तरह  नचाता है मानो वह उनके गुलाम हो, आप सब लोग सोचेंगे की गलती बेटे की है हां बात बिल्कुल सही है लेकिन गलती बेटे की है लेकिन उससे ज्यादा गलती उस बेटे की मां की है जी हां दोस्तों , जब मैं छोटा था और कभी कबार अपने हॉस्टल से घर पर आता था , 

एक वक्त हुआ यूं कि उस लड़के ने अपनी मां के पर्स में से कुछ पैसे चुरा लिए पैसे चुराने के बाद वह मेरे पास आया और कहने लगा चलो मैं तुम्हें इंजॉय कराता हूं और मैं उसके साथ चला गया उसे मेरे ऊपर बहुत सारे पैसे खर्च करे ,  

मुझे बहुत मज़े करवाए और उसके बाद जब हम घर पर आए तो मुझे पता चला कि उसके घर पर पैसे चुराए थे  सब लोग उसे ही ढूंढ रहे थे बाद में मुझे पता चला कि वह जो पैसे से उसने मुझे इंजॉय करवाया वह पैसे उसने खुद के घर से चुरा थे  यह सुनकर उसके पापा उसको मारने के लिए गए लेकिन तभी उसकी मां ने उसे रोक लिया कहा कि क्या हुआ अगर उसने पैसे लिए है सब कुछ उसिका तो है , यह थी उनकी पहली और सबसे बड़ी गलती , 

कुछ मां बाप अपने इक लौते बेटे को इस तरह पालते हैं कि मानो वह किसी चिड़िया का बच्चा पाल रहे है , चिड़िया के बच्चे को हम डांट नहीं सकते और कुछ नहीं कर सकते ,  उसी तरह कुछ माता पिता अपने बेटे को कभी कुछ नहीं कहेंगे और उसकी हां में हां मिलाते हैं और वही बच्चा जब बड़ा होता है तो आप सोच भी नहीं सकते कि वह क्या करता है , 

             
ऐसी तो बहुत सारी बातें है  यह तो सिर्फ एक छोटा सा टुकड़ा था उस कहानी का लेकिन ऐसी तो बहुत सारी कहानी है अगर यहां पर करने लगा तो शायद पेज के पेज भर जाएंगे लेकिन बात आज की करना चाहता हूं , आज की तारीख में वह लड़का शराब पीता है तंबाकू खाता है और वह हर व्यसन जो व्यसन कहलाता है वह सब कुछ  करता है और उसको कहने वाला कोई भी नहीं है , 

क्योंकि अब वक्त गुजर गया है अगर अब उसे कुछ कहा गया तो वह कुछ भी कर सकता है , जैसे कि सब जानते हैं दोस्तों कोई भी पेरेंट्स जब बच्चा 18 साल का हो जाता है उसके बाद उसे मारते या गुस्सा नहीं करते क्योंकि उसे डर लगता है कि अब यह बच्चा कुछ भी कर सकता है इसलिए हम बच्चे को कुछ नहीं कहेंगे, अगर पेरेंट्स चाहते हैं कि उसका बच्चा उसका बन कर रहे तो बचपन से ही उसे डांटा उस पर गुस्सा करो कभी कभी जरूरत पड़े तो हाथ भी उठाव  ,

यह बिल्कुल गलत नहीं है दोस्तों आज आपने यह सब नहीं किया तो आगे जाकर बेटा ऐसा ही बनेगा , लेकिन मैं सारी गलती पेरेंट्स के ऊपर नहीं लगाना चाहता क्योंकि पैरेंट से ज्यादा गलती बच्चे की होती है जिस बच्चे को पालने के लिए एक पेरेंट्स अपनी जिंदगी की पाई-पाई खुशी खुशी खर्च कर देता है वही बच्चा बड़ा होकर उसको यह दिन दिखाता है इट इस नॉट फेयर , 

             
बच्चों को यह समझना चाहिए की माता पिता अगर हमें कुछ भी करते हैं तो वह सब कुछ हमारे लिए करते हैं लेकिन कुछ बच्चे को लगता है , कि हमारे माता पिता हमारे अगेन से हमें समझते नहीं हैं , हमारी बात में साथ नहीं देते , लेकिन उन्हें यह भी जानना जाए कि उसकी जो बात है वह बिल्कुल भी गलत होगी तभी उसके माता पिता उसका साथ नहीं देते होगे , 

यह सवाल वह लड़का ही कर सकता है जिसकी एजुकेशन नहीं हुई है मेरा मानना है कि अगर एक बच्चा अपनी लाइफ में सिर्फ एजुकेशन की प्राप्ति करें भले ही आगे जाकर कोई जॉब ना कर पाए लेकिन वह बच्चा समाज के लिए एक मिसाल बन कर रहेगा , जिंदगी में कुछ बनने के लिए सिर्फ और सिर्फ शिक्षा काम आती है जिसके पास शिक्षा है उसका नाम इतिहास में बोला जाएगा लेकिन जिसके पास शिक्षा नहीं उसे शायद ही कोई जानता होगा, 

सबसे बड़ी बात यह है दोस्तों की अपनी सोच को बदलो  लेकिन एक सोच अपने दिमाग सब बिठा लो कि कभी भी अपने पेरेंट्स को गलत मत समझना कभी भी यह मत समझना कि आप सही हो और वह गलत है , क्योंकि मैं नहीं  मानता कि कभी भी कोई भी पेरेंट्स गलत हो सकते है , हां कुछ गलत होते लेकिन उनमें उनका स्वार्थ होता है जैसे कि मैंने आपको बात कही उस लड़के के बारे में उसकी मां ने जो गलतियां की  दोस्तों और मां कभी अपने बेटे को दुख में नहीं देख सकती , यह बात अलग है कि उसे आने वाले सिचुएशन के बारे में अंदाजा नहीं था ऐसा हो सकता है कभी-कभी लेकिन आज वह बहुत पछता रही है रोज रो रही है , 

            
आज दोपहर को वह मेरे पास आई और कहा कि बेटा मेरा जो बेटा है वह हमसे रूठ कर यहां से भाग गया है तो तुम उसके पीछे जाओ और उसे यहां पर लेकर आओ जब मैं उस बच्चे के पास गया था सॉरी वह बच्चा तो नहीं है मेरे उम्र का है लेकिन उसके पास जब में गया तो उसने मुझे कहा कि आज मैंने शराब नहीं पी है फिर भी वह मुझ पर शक कर रहे हैं  वह चाहते ही नहीं कि मैं यहां पर रहूं , 

इसलिए आज मैं यहां से जा रहा हूं और कभी लौट कर नहीं आऊंगा और बहुत सारी बकवास बातें उसने मुझे बताएं कि उसके पेरेंट्स जैसे हैं वैसे है वह बिल्कुल भी मुझे समझते नहीं है तभी अचानक उसकी मां वहां पर आए और वह कहने लगी कि चलो बेटे घर पर चलो लेकिन वह घर पर नहीं आया और अपनी मां के साथ ऐसे बातें कर रहा था मानो वह उनकी नौकरानी   यह सीन देख कर मैं एक दम से चौंक गया मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि गलती किसकी है उस मां की जिसने बचपन में गलती की या उस बेटे की जो आज गलती कर रहा है इस switchvation में मैं एकदम से फस गया था , 

अभी तक मैं सोच रहा हूं कि उन्हें गलती किसकी है सबसे ज्यादा गलती किसकिं है  दोस्तों मैं जानना चाहता हूं कि आपको क्या लगता है  सबसे ज्यादा गलती किसकी है , क्योंकि मैं तो अभी कुछ नहीं बता सकता मुझे भी कुछ लोगों की राय चाहिए तो अगर आपके पास कोई सजेशन है तो प्लीज मुझे कमेंट बॉक्स दो लिखकर बताएं ,

           
आज के लिए बस दोस्तों इतना ही फिर एक नई कहानी और नए आर्टिकल के साथ मिलेगा तब तक के लिए गुड बाय एंड टेक केयर ,


0 comments: