Search here

सोमवार, 9 जुलाई 2018

Hard work and smart work on study Hindi best tips

Hard work and smart work : what is hard work and what is smart work , what is different between smart and hard work , What is benifit of hard work , speech on hard work and smart work 

Hard work and smart work on study 

How to do smart work on study
Hard work and smart work on study  Hindi  best tips 

आपने बहुत बार देखा होगा कि आपके क्लास में जो टॉपर स्टूडेंट है वह ज्यादातर पढ़ते नहीं है और हमेशा यह कही घूमते रहते और हम सोचते हैं कि वह स्टूडेंट अपनी लाइफ में आगे कैसे बढ़ते , ऐसा क्या है जो वह बिना कुछ पढ़े लिखे आगे बढ़ जाते हैं और हम बहुत मेहनत करते हैं फिर भी आगे नहीं बढ़ते हम सुबह 4:00 बजे उठकर पढ़ते हैं फिर भी हम उन जैसा स्टूडेंट नहीं बन सकते आखिर वो ऐसा क्या करते हैं जो वह अपनी क्लास में टॉपर है तो आज मैं आपको उसका बहुत ही अच्छा और बहुत ही सीधा रास्ता बताने वाला हूं ताकि आप भी उसकी तरह सरल और अच्छी स्टडी करें और स्टडी को कहते हैं स्मार्ट स्टडी ,

हमारी तो स्टडी होती है वह हार्ड स्टडी होती है मतलब कि हम महीने ज्यादा करते और दिमाग कम चलाते हैं तो हमें करना बस इतना है कि हम मेहनत कम करें और दिमाग ज्यादा चलाएं इससे यह होता है दोस्तों क्यों मरी है उसका बोझ पर हम पर नहीं होता और हम पढ़ते लिखते रहते और जो भी पढ़ते जो भी पढ़ते वह में याद रह जाता है तो अब हमें यह जानना है कि तुम्हे कहते किसे स्मार्ट स्टडी और स्टडी तो इसका पूरा नॉलेज आज मैं इस आर्टिकल के जरिए आप सब को बताना चाहता हूं वेलकम टू माय फ्रेंड्स ,

  Smart study vs hard study 

How to do smart study
Hard work and smart work on study  Hindi  best tips 

                
दोस्तों ज्यादातर यह होता है कि जब हम स्टडी करते हैं तो हमें यह नहीं पता होता कि हम क्या स्टडी कर रहे हैं , बिना कुछ समझे और जाने हम यूं ही स्टडी करे जा रहे हैं तब ऐसा होता है कि बिना कुछ जाने अगर हम स्टडी करते हैं तो हमारे दिमाग में कुछ भी सेटल नहीं होता तो हम जो कुछ भी पढ़ना है सबसे पहले जानना जरूरी है कि हम क्या पढ़ रहे हैं अगर हम यह जान गए कि हम क्या पढ़ रहे हैं इसका मतलब यह है कि हम स्मार्ट स्टडी कर रहे हैं और अगर हम कुछ भी जाने बिना स्टडी कर रहे हैं हमें पता ही नहीं है कि हम क्या पढ़ रहे इसका मतलब यह है कि आप हार्ड स्टडी कर रहे हैं और हार्ड स्टडी का मतलब यह है कि आप गधा मजदूरी कर रहे है , 

तो  अगर आप हार्ड स्टडी करते है , आज उसे बंद कर दीजिए क्योंकि हार्ड  स्टडी का कोई फायदा नहीं है दोस्तों हार्ड स्टडी करने से हमें कोई भी फायदा नहीं होता लॉन्ग टाइम के बाद हम सब कुछ भूल जाते लॉन्ग टाइम तो क्या दोस्तों जो कुछ भी अगर हम हार्ड  स्टडी के दौरान पढ़ते हैं तो उसका अगले 24 घंटे में ही अपना रिएक्शन बता देता है कि हमें सब कुछ भूल गए है , तो सबसे पहले मैं आप सब को यह बताना चाहता हूं कि आप जो कुछ भी पढ़ रहा है वह स्मार्ट स्टडी हो , 

  What is smart study 

अगर आप पढ़ रहे हैं और लिखा हुआ आपको सब कुछ समझ में आ रहा है आपके माइंड में सब कुछ भी लिखा है वह visualise  हो रहा है मतलब कि आपके माइंड में उन सब की कल्पनाएं उत्पन्न हो रही है तो इसका मतलब यह है कि लिखा हुआ आपको सब कुछ समझ में आ रहा है तो इसका मतलब यह है दोस्तों कि आप जो स्टडी कर रहे हो बहुत स्मार्ट स्टडी है , दोस्तों स्मार्ट स्टडी का मतलब सिर्फ इतना ही नहीं है कि जो कुछ भी लिखा हुआ है वह आपको समझ में आ रहा है , 

अगर आप लिखा हुआ समझ रहे इसका मतलब यह है कि आप स्मार्ट स्टडी तो कर रहे है , लेकिन और भी बहुत सारी परिभाषाएं है स्मार्ट स्टडी के जैसे कि अगर कोई इंसान स्मार्ट स्टडी कर रहा है तो उसका जो दिमाग है वह पूरी तरह से एक्टिव होना चाहिए मतलब कि उसका दिमाग चंचल होना चाहिए , दोस्तों स्मार्ट स्टडी ऐसे कह रहा है कि हम जो पढ़ रहे हैं वह हमें समझ में आ रहा है लेकिन जो हम पढ़ रहे हैं वह हमारी पसंद का होना चाहिए हम अगर हमें हिस्ट्री पसंद है और हम साइंस पढ़ रहे है ,  

इसका मतलब यह है दोस्तों कि हम अपनी नापसंद का  कर रहा है और अगर हम कुछ ऐसा करते हैं जो हमें पसंद नहीं है तो हमारा जो माइंड है वह थक जाता है इस कारणवश हमने जो कुछ पढ़ा हुआ है वह कुछ देर बाद भूल जाते हैं तो स्मार्ट स्टडी करते हो यह भी ध्यान में रखें कि आप जो पढ़ रहे हैं वह आपकी पसंद का है ,

Different between hard and smart work   


दोस्तों आज के जमाने में सब लोग सिर्फ पैसे कमाने के लिए सब करते है , तो आज मैं आप सबको बता दू दोस्तों के अगर आप कोई भी काम पैसे कमाने के लिए कर रहे है तो आप उस काम में कभी सफल नहीं होगे क्योंकि जैसे गीता में लिखा है कृष्ण भगवान ने की हम काम करते जाए बिना फल की आशा किए तो अवश्य हमें फल मिलेगा ,  

तो दोस्तो यह बात मैं इसलिए नहीं कह रहा हूं कि वह गीता में लिखी है मैं यह सब इसलिए कह रहा हूं कि यह सब कुछ मैंने अपनी रियल लाइफ में महसूस किया है वह सब कुछ देखा भी है आपने भी कहीं ना कहीं यह सब कुछ देखा होगा तो मैं आप सब से अनुरोध करता हूं कि आप कुछ भी करें तो अपनी पसंद का करें और बिना किसी फल की आशा के साथ करें उस से क्या होगा दोस्तों अगर आप सब कुछ बिना  किस फल की आशा से कर रहे हैं तो आपको एक ना एक दिन उसका रिजल्ट अवश्य मिलेरगा , 


दोस्तों अगर हम स्मार्ट स्टडी कर रहे हैं तो किसी भी सब्जेक्ट को पढ़ने के लिए एक पैटर्न होता है जिसे अगर हम फॉलो करते हैं तो हम उस सब्जेक्ट को अच्छी तरह से पढ़ सकते है , किसी भी सब्जेक्ट को पढ़ने का सबका एक एक पैटर्न होता है और अगर आप Google में सर्च करेंगे तो आपको बहुत सारे टिप्स मिलेगी इसके रिलेटिव , तो मैं आज आप सबको अपनी भी कुछ टिप्स शेयर करना चाहता हूं जिससे मेरा experience आप तक पहुंचे , 

तो दोस्तों मेरा जो पैटर्न है स्टडी का वह यह है कि हम 1 दिन में किसी एक सब्जेक्ट की तैयारी करें और दूसरे दिन हम किसी और सब्जेक्ट की तैयारी करें इससे क्या होता है दोस्तों अगर हम सोमवार को यानी कि मंडे को अगर हम साइंस की तैयारी करते हैं तो अगर हमने बीच में किसी और सब्जेक्ट को ले लिया मानो कि हमने साइंस स्टडी करते हुए हिस्ट्री को पढ़ना शुरू कर दिया तो  इस वजह से आपके दिमाग में हिस्ट्री और साइंस दोनों की बातें घूमेंगे तो आपका जो दिमाग है वह चकरा जाएगा और कुछ भी समझ नहीं पाएगा , 

Speech on hard and smart work


यह सब में पूरे दिन करने के लिए नहीं कह रहा हूं दोस्तों पूरे दिन आपको पढ़ना है एक सब्जेक्ट इसका मतलब यह है कि आप जब स्कूल से आते हैं और पूरे सब्जेक्ट का होम वर्क  को पूरा करते हैं यानि कि स्कूल में दिया हुआ सारा होमवर्क सारे सब्जेक्ट का होमवर्क खत्म करते उसके बाद अगर आप स्टडी करने बैठते हैं तो आप किसी एक सब्जेक्ट को चुने और उसे पढ़ते रहे , 

दोस्तों इतना ही नहीं अगर आप एक साथ कंटिन्यू स्टडी कर रहे हैं तो वह भी आपके लिए स्मार्ट वर्क नहीं होगा इसलिए आप स्टडी करते हो कुछ देर रेस्ट भी  ले यानी कि अगर आप 1 घंटे स्टडी करते हैं तो उसके बाद 10 मिनट के लिए आराम करे , और इस के दौरान आप कुछ ऐसी एक्टिविटीज कीजिए जिसमें आपको अच्छा फिल हो यानी कि आपका माइंड फ्रेश हो जाए , ओर यह बहुत ही जरूरी है दोस्तों , 

 दोस्तों सिर्फ स्मार्ट स्टडी करना जरूरी नहीं है उसके साथ-साथ स्मार्ट होम वर्क  करना भी जरूरी है अगर हम होमवर्क कर रहे हैं और वह स्मार्ट तरीके से नहीं कर रहे  है तो वह भी बहुत बुरी बात है इसलिए अपना होमवर्क करने का भी एक पैटर्न होता है जो भी सबका अलग अलग होता है लेकिन मैं किसी और को ना लेते हुए अपना पैटर्न आपको बताना चाहूंगा दोस्तों मेरा जो यह पैटर्न है वह यह है कि मैं किसी भी चीज को जब लिखता हूं तो साथ-साथ उसे पढ़ता भी हूं और मेरे नजरिए से दोस्तों इसे ही स्मार्ट वर्क कहते  , 

अगर दोस्तों आपके पास होमवर्क और स्मार्ट स्टडी रिलेटिव और कोई भी नॉलेज है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं तो मैं यह सब कुछ अपने नेक्स्ट आर्टिकल में लिख सकूं और मेरी और आपकी मेहनत है वह किसी और तक पहुंचे सब मिलाकर बात यह है दोस्तों की सिर्फ हमें स्मार्ट study  नहीं करना है हमें स्मार्ट होमवर्क भी करना है  , 

Study with besic knowledge 

How to do smart work im study
Hard work and smart work on study  Hindi  best tips 

दोस्तों जैसे कि आप सब जानते हैं कि आज के जमाने में बहुत ही कॉन्पिटिशन बढ़ गया है और जॉब लेने के चांसेस भी कम होते जा रहे हैं तो अगर आप अभी 11 या कॉलेज की पढ़ाई कर रहे हैं तो साथ साथ बेसिक नॉलेज का भी ध्यान रखते जाइए क्योंकि हम कोई भी  competitive एग्जाम देने जाते हैं तब वहां पर सिर्फ एक पर्टिकुलर सब्जेक्ट के विषय पर सारे क्वेश्चंस नहीं होते तू अगर आपके पास बेसिक नॉलेज नहीं है तो आप किसी भी कॉन्पिटिटिव एग्जाम को क्लियर नहीं कर पाएंगे , 


तो अगर आप चाहते हैं कि आपके द्वारा की हुई स्टडी स्मार्ट है तो आप आज  से ही साथ में बेसिक नॉलेज का अध्ययन लेना भी शुरू कर दीजिए और आज  हर कॉलेज और स्कूल में लाइब्रेरी होती ही है तो आप लाइब्रेरी में जाइए और वहां पर दिए गए जनरल नॉलेज के बुक्स  को भी  पढ़िए और जनरल नॉलेज को भी अपनी लाइफ में उतारिए , दोस्तों अगर आप साइंस के स्टूडेंट है इसका मतलब यह नहीं है कि आपके आर्ट्स और कॉमर्स की नॉलेज नहीं होने चाहिए , दोस्तों मैं यह नहीं कहता कि आपके पास आर्ट्स और कॉमर्स की पूरी नॉलेज हो मैं बस यह कहता हूं कि आपके पास आर्ट्स और कॉमर्स के बेसिक नॉलेज तो होनी ही चाहिए , 

दोस्तों जब हम रात को सोते हैं तब हमारी पूरी बॉडी है वह विश्राम कर रही होती है और उसके साथ-साथ हमारा एवं माइंड भी विश्राम कर रहा होता है इसलिए अगर आप सुबह उठकर स्टडी करते हैं तो तब आपकी जो बैटरी है वह फुल चार्ज में होती है और आपका जो दिमाग है वह बहुत ही तेजी से वर्क करता है तो मै आपको सजेस्ट  करता हूं कि आप सुबह उठकर स्टडी करें , और यही स्मार्ट स्टडी है , 

और भी बहुत सारी बातें करनी हैं आपसे लेकिन वह सब नेक्स्ट आर्टिकल में आज के लिए बस इतना ही मैं आशा करता हूं कि मेरे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल आपको मदद रूप हो ओके दोस्तों टेक केयर एंड गुड बाय ,


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Share your experience with me